Logo 011-40200000
Logo 8750 931 000

जमीन जायदाद

court
हर व्यक्ति को सुख की लालसा होती है, एवं सुख की मुख्य चीजों में जमीन एवं मकान को गिना जाता है । आज के समय मे जमीन जायदाद का सीधा संबंध धन से है जिस व्यक्ति के पास जितनी जमीन होती हैI उसी के हिसाब से उसकी आर्थिक स्थिति को मापा जाता है। जमीन जायदाद हमें हमारे पुरुखों से प्राप्त हुआ ऐसा धन है जिसकी उपयोगिता कभी कम नहीं होती बल्कि समय के साथ बढ़ती रहती है जिसमें व्यक्ति अपनी आर्थिक स्थिति के हिसाब से बढ़ाने की ही इच्छा रखता है।क्योंकि आज के समय मे व्यक्ति जब अच्छी परिस्थिति में होता है तो वह इसमें निवेश करता है एवं जब किसी प्रकार की आर्थिक परेशानी में आता है तो जमीन आदि को बेच कर आर्थिक परेशानी से बाहर निलकता है।व्यक्ति को जमीन आदि खरीदते या बेचते समय ज्यातिष शास्त्र की सहायता अवश्य लेनी चाहिए जिससे हमें बिना नुकसान के पूर्ण रूप से फायदा हो कई जातक वर्षों के परिश्रम के बाद भी इस स्तर पर नहीं पहुँच पाते कि संपत्ति के स्वामी बन सकें तो दूसरी ओर कुछ धनाढ्य जातकों कि परेशानी उनकी अथाह संपत्ति के लिए उचित खरीदार या किरायेदार न मिलने कि भी है । इसी तरह तीसरा पक्ष लें तो किरायेदार से अपनी संपत्ति खली करवाना भी एक समस्या बनता जा रहा है । आजकल माध्यम वर्ग की अछि खासी आमदनी होते हुए भी सारा धन किराये या दैनिक कार्यों में ऐसे खपता है कि अपना घर एक स्वप्न बनकर ही रह जाता है। इन परिस्थितियों से निराकरण के लिए हमारे “श्री शक्ति ज्योतिष संस्थान” संस्थान के विद्वान ज्योतिषियों ने गहन शोध कर ऐसे सुगम मंत्र, पूजा एवं उपाय खोजे हैं “सबका सपना घर हो अपना ” सकार्थ हो सके । और यदि पैतृक संपत्ति प्राप्ति में भी यदि कोई बाधा या रूकावट कलह-क्लेश चल रहा है तो उससे निजात मिल सकेI

हमारी सेवाएँ:-

1. संपत्ति के क्रय – विक्रय का सही समय संबंधी रिपोर्ट।

2. पैत्रिक संपत्ति कब मिलेगी या उसके क़ानूनी झंझट छुड़वाने के उपाय , जप , अनुष्ठान संबंधी रिपोर्ट।

अभी खरीदें

कॉल वापसी के लिए अनुरोध करें

हमारा अनुसरण करे


हम सभी प्रकार के कार्ड स्वीकार करते हैं
payment American Card Mastro Master Card Master Card payment
संपर्क सुत्र

© 2019, सभी अधिकार सुरक्षित, श्री शक्ति ज्योतिष संस्थान| Developed By : Net Xperia
English
error: Content is protected !!