Logo 011-40200000
Logo 8750 931 000

संतान

court
हर विवाहित स्त्री चाहती हैं कि उसका भी कोई अपना हो जो उसे मां कहकर पुकारे। माँ और बच्चे का संबंध संसार में स्वार्थ-रहित होता है। माँ बच्चे को जन्म देती है और अपनी ममता प्रेम निस्वार्थ ही लुटा देती है। स्त्री माँ बन कर सार्थक होती है और पिता बन कर पुरुष गौर्वान्तित होता है। इसके विपरीत जो स्त्री- पुरुष दाम्पत्य जीवन को जीते है पर माँ- बाप नहीं बन पाते वह जीवन अधुरा ही अनुभव करते है। यदि पति-पत्नी दोनों ही स्वास्थ्य की दृष्टि से उत्तम हैं, फिर भी उनके यहां संतान उत्पन्न नहीं हो रही है। ऐसे में संभव है कि ज्योतिष संबंधी कोई अशुभ फल देने वाला ग्रह उन्हें इस सुख से वंचित रखे हुए है। यदि पति स्वास्थ्य और ज्योतिष के दोषों से दूर है, तो स्त्री की कुंडली में संतान संबंधी कोई रुकावट हो सकती है। इस पीड़ादायक स्थिति से बचने के लिए ग्रहों का अवलोकन कर लेना चाहिए। कभी- कभी कुंडली में ग्रहों की स्थिति के कारण गृहस्थ संतान सुख से वंचित रह जाते है। काफी महिलाएं ऐसी हैं, जो मां बनने के सुख से वंचित हैं। श्री शक्ति-ज्योतिष संस्थान में उपस्थित विद्वान ज्योतिषीयों एवं विद्वान पुरोहितों द्वारा कुण्डली दोष के उपाय अनुष्ठान एवं रत्न परामर्श के द्वारा संतान संबंधी सुख से वंचित दम्पति संतान सुख का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

हमारी सेवाएँ:-

1. पति – पत्नि घरेलु उपाय, रत्न सुझाव , संतान प्राप्ति हेतु सरल मंत्र, जप-हवन कर्म I

2. पति – पत्नि की कुंडली में संतान संभावना एवं प्राप्ति संबधी रिपोर्ट।

3. श्री शक्ति-ज्योतिष संस्थान द्वारा ऊपर लिखित सुझावों को करवाने का भी किया जाता है ।

अभी खरीदें

कॉल वापसी के लिए अनुरोध करें

हमारा अनुसरण करे


हम सभी प्रकार के कार्ड स्वीकार करते हैं
payment American Card Mastro Master Card Master Card payment
संपर्क सुत्र

© 2019, सभी अधिकार सुरक्षित, श्री शक्ति ज्योतिष संस्थान| Developed By : Net Xperia
English
error: Content is protected !!